Disqus Shortname

Breaking News

राज्‍यपाल से मिलने पहुंचे सीएम नीतीश, दिया इस्‍तीफा


राज्‍यपाल से मिलने पहुंचे सीएम नीतीश, दिया इस्‍तीफा





 




राज्‍यपाल से मिलने पहुंचे सीएम नीतीश, दिया इस्‍तीफा

बुधवार को राजद के बाद जदयू विधानमंडल दल की बैठक हो रही है। इस बीच बताया जा रहा है कि सीएम नीतीश कुमार ने बड़ा फैसला लिया है। उन्‍होंने राज्‍यपाल से मिलने का समय मांगा है।




 बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने चल रहे सियासी सरगर्मी के बीच इस्‍तीफा दे दिया है। उन्‍होंने यह साफ कर दिया कि किसी भी कीमत पर वे भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति से समझौता नहीं कर सकते हैं। यही वजह है कि जब राजद विधानमंडल दल की बैठक के बाद अंतिम रूप से जय हो गया कि डिप्‍टी सीएम तेजस्वी यादव इस्‍तीफा नहीं देंगे तो उन्होंने खुद इस्तीफा दे दिया। इसके बाद वे मीडिया से रूबरू हैं।

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने पार्टी विधानमंडल की बैठक 28 जुलाई को बुलाई थी, लेकिन राजद का रुख देखते हुए इसके समय में परिवर्तन किया। बुधवार शाम को हुई इस बैठक में मंत्रिमंडल भंग करने व नीतीश कुमार के इस्‍तीफे का फैसला लिया गया।

सरकार को लेकर अंतिम निर्णय पर आने के बाद मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्‍यपाल से मिलने का वक्‍त मांगा। इसके बाद उन्‍होंने राज्‍यपाल से मिलकर अपने निर्णय से उन्‍हें अवगत कराया।

नीतीश ने कहा


- इस बाबत नीतीश कुमार ने कहा कि उन्‍होंने जितना संभव हुआ, गठबंधन धर्म का पालन करते हुए जनता से किए वायदे पूरे किए।

- हमने तेजस्‍वी का कभी इस्‍तीफा नहीं मांगा। लालू जी से बातचीत होती रही है। तेजस्‍वी भी मिले। हमने कहा कि जो भी आरेाप लगे हैं, उसे एक्‍सप्‍लेन कीजिए। आम जन के बीच जो अवधारना बन रही है, उसके लिए यह जरूरी है। वो नहीं हुआ।

- राहुल जी से भी बातत की। बिहार में भी कांग्रेस के लोग हैं, उनसे भी कहा।

- ऐसी परिस्थिति बनी कि काम करना संभव नहीं हो रहा था।

-हमने अपनी बात कह दी थी, अब उनको करना था।

- वीां अपेक्षा थी कि हम संकट में हैं तो हमारी रक्षा कीजिए। यह कोई संकट नहीं है, अपने आप बुलाया गया संकट है।

- जबतक चला सकते थे चला दिया, अब ये मेरे स्‍वभाव व काम करने के तरीकों के अनुकूल नहीं है।


विदित हो कि सीबीआइ की एफआइआर में नामजद डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी यादव के इस्‍तीफे को लेकर भाजपा ने विधानमंडल के मॉनसून सत्र को बाधित करने का अल्‍टीमेटम दिया था। जदयू ने भी कई बार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के भ्रष्‍टाचार के प्रति 'जीरो टॉलरेंस' की बात कही। उधर, राजद ने साफ कर दिया था कि तेजस्‍वी किसी भी स्थिति में इस्‍तीफा नहीं देने जा रहे हैं। ऐसे में उनके पास खुद इस्‍तीफा देने या तेजस्‍वी को बर्खास्‍त करने का विकल्‍प था।

साभार -जागरण 

No comments