Disqus Shortname

Breaking News

IPL में साथी क्रिकेटरों को पानी पिलाने में धाँधली की थी तेजस्वी ने


आईपीएल में साथी क्रिकेटरों को पानी पिलाने में धाँधली की थी तेजस्वी ने


     
बिहार के उप-मुख्यममंत्री तेजस्वी यादव की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ही ले रही हैं। कोई उनका इस्तीफा मांग रहा है तो कोई उनका मजाक उड़ा रहा है । देश भर में फैले उनके दर्जनों घरों पर सीबीआई के छापे तो पड़ ही रहे थे, इसी बीच उनका एक और घोटाला सामने आ गया। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि जब तेजस्वी दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में थे और साथी खिलाड़ियों को पानी पिलाते थे तो बिच रास्ते से बोतलें ही  पार कर देते थे। दो सालों में सैकड़ो  बोतलों की हेराफेरी का उन पर आरोप लगा है।


फेक न्यूज़ 


मैदान से इशारे का इंतज़ार करते तेजस्वी

बीजेपी के एक प्रवक्ता  ने मीडिया को सबूत दिखाते हुए दावा किया कि “जब 2008-2009 में लालू रेल मंत्री थे, उसी दौरान तेजस्वी दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में थे। प्लेयर्स को पिलाने के लिये उन्हें बाल्टी में रखकर बिसलेरी की बोतलें दी जाती थीं, जिन्हें वो रास्ते में रेल नीर की बोतलों से बदल देते थे। चूंकि लालू जी रेल मंत्री थे तो वो रेल नीर की बोतलें फ्री में मंगवा लेते थे। अदला-बदली का ये सारा खेल डग आउट और बाउंड्री लाइन के बीच में किया जाता था।”

“इतना ही नहीं! कहा तो यहाँ तक जाता है कि लालू जी की भैंसें भी उस दौरान रेलनीर में ही नहाती थीं। ये देखिये!” -बीजेपी प्रवक्ता  ने एक भैंस के स्नान की तस्वीर लहराते हुए कहा। हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि वो भैंस कहाँ की है और उसे कौन नहला रहा है।

उधर, तेजस्वी ने इन आरोपों को बेबुनियाद और  बकवास बताते हुए कहा है कि “2008 में हमारा मूँछ निकल आया था तो इसका मतलब ये नहीं कि हम घोटाला भी करने लगे थे।”

फिर मेज पर रखी पानी की बोतल की ओर इशारा करते हुए वो बोले कि अब आप ही लोग बताईये  आजकल का प्लेयर लोग पानी पीता है क्या? कभी बाल्टी में झाँक के देखियेगा! सब जूस और एनर्जी ड्रिंक का बॉटल होता है। पानी तो हम जैसा पिछड़ा लोग पीता है और पिलाता भी है। दिल्ली की टीम का इतने साल सेवा किया, उसका ये ईनाम मिल रहा है हमें!” -यह कहकर वो आँखें पोंछते हुए कहा 
ये सब बीजेपी और मोदीजी का प्लान है 

#FAKE_NEWS


Source-faking news

1 comment:

  1. Where Are chrome bookmarks Stored: Yes!! We bookmark the web pages which we like and we browse when they are required right.
    www.windowslibrary.org

    ReplyDelete